मुंह के छाले

YouTube Poster

सामान्य तौर पर मुँह में छालों को पेट की खराबी से जोड़कर देखा जाता है पर इसके साथ साथ इसके कई अन्य कारण भी हो सकते है जैसे 

हार्मोनल संतुलन बिगड़ने से भी मुंह में छाले हो सकते हैं।

इसके अलावा विटामिन B 12 की कमी से और आयरन की कमी से भी मुँह में छाले हो सकते हैं।

 कम पानी पीने से भी छाले हो सकते हैं। इसलिए कम से कम 6-7 गिलास पानी पीना चाहिए।

कभी-कभी पीरियड्स ठीक से न आने  या  समय पर ना होने से भी मुंह में छाले हो जाते हैं।

ज्यादातर मुंह में छाले तभी होते हैं जब पेट खराब होता है, भोजन पच  नहीं पाता है।

कब्ज़ की शिकायत ज्यादा होती है या फिर गर्म तासीर वाली चीजें अधिक मात्रा में खाने से होते है। इससे पेट में गर्मी बढ़ जाती है।

घरेलू इलाज

  •  गुनगुने पानी में आधा चम्मच नमक डाल कर गरारे करना चाहिए।
  • गुनगुने पानी में थोड़ी हल्दी मीठा सोडा डालकर भी गरारे कर सकते हैं।
  • हल्दी या मीठा सोडा का थोड़ा सा  पेस्ट बनाकर छालो में लगा सकते हैं।
  •  एलोवेरा जेल भी छालो में लगा सकते हैं।
  •  मुंह को हमेशा साफ़ रखना चाहिए। किसी प्रकार की दुर्गन्ध नहीं आनी चाहिए।
  • सूखा या कच्चा  नारियल को चबाकर थोड़ी देर मुँह में ही रहने दें, फिर खा लें, इससे भी आराम मिलेगा।  
  • अमरुद की कोमल पत्तियों को चबाएं ,थूक को बाहेर थूकते जाए , रहत महसूस होगी।  
  • करेले का रस या पत्ती का रस भी लगा सकते है। 
  • चमेली की पत्तियों को भी चबाकर थूक दें।  
  • दही , छाछ और लस्सी का सेवन भी मुँह के छालों में आराम देता है।  
  • सबसे कारगर उपाय – गाय के दूध से बनाया गया घी लेकर छालों में लगाएँ।  दिन में 3-4 बार लगाएँ । 
  • रात में सोते समय घी मुँह में लगाकर सो जाएँ।  बहुत ही जल्दी मुँह के छाले समाप्त हो जाएंगे।  

इन उपायों से मुँह के छाले 2-3 दिनों में ही ठीक हो जाते है। परन्तु अगर आपके छाले 3 दिनों तक ठीक ना हों तो आपको डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए और टेस्ट कराना चाहिए जिससे उसका कारण पता चल सके।

कमर दर्द के कारण और निदान

कमर दर्द काफी आम समस्या है और हममें से कई लोगो को यह समस्या कभी न कभी जरूर होती ही है। वैसे तो Kamar dard सभी को होता है पर पुरुषों की तुलना में महिलाओं को यह परेशानी ज़्यादा होती है।

कमर दर्द 30 और 50 की उम्र के बीच के व्यक्तियों में होने की संभावना अधिक होती है। यह आंशिक रूप से उम्र बढ़ने के साथ शरीर में होने वाले परिवर्तनों के कारण होता है।

कमर दर्द के कई कारण हो सकते है। इन कारणों को हम दो प्रकार में बाँट सकते है जैसे
लाइफ स्टाइल के कारण या किसी चोट या बीमारी के कारण

अब इसमें से पहली कैटेगरी में हम उन कारणों की बात करेंगे जिनका संबंध हमारी लाइफ स्टाइल से है जैसे

  • हमारे उठने बैठने चलने के दौरान बॉडी पोस्चर का सही न होना।
  • ज़्यादा भारी वज़न उठाने से
  • लम्बे समय तक खड़े या बैठे रहना।
  • मोटापा या ज़्यादा वज़न का होना।
  • फिजिकल एक्टिविटी का कम होना जैसे एक्सरसाइज न करना।

दूसरी कैटेगरी में उन कारणों की बात करेंगे जिनकी वजस से हमारे मसल्स या टिश्यूज़ में चोट या खराबी आयी हो जैसे

  • कैल्शियम की कमी से हड्डियों के कमजोर होने से।
  • आर्थराइटिस
  • साइटिका
  • स्पाइन में इन्फेक्शन
  • किडनी इन्फेक्शन
  • डिस्क के टूटने से

इसके अतिरिक्त कुछ स्वास्थ्य स्थितियों के कारण कमर दर्द हो सकता है: जैसे
प्रेगनेंसी में या ओवेरियन सिस्ट के होने से।

अब बात करते है की कैसे आप अपने कमर दर्द से छुटकारा पा सकते है। इसके लिए आपको अपनी दिनचर्या और लाइफ स्टाइल में कुछ बदलाव करने होंगे जिससे आपको बैक पैन से काफी राहत मिलेगी

  • रोज़ाना एक्सरसाइज या मॉर्निंग वाक करें।
  • सोने के लिए सामान्य बिस्तर का प्रयोग करें ज़्यादा नरम बिस्तर का प्रयोग नहीं करना चाहिए।
  • अगर संभव हो तो कुछ समय ज़मीन पर ही सोये यह आपके बैक पैन में काफी आराम देता है।
  • हमेशा अपना बॉडी पोस्चर सही रखें।
  • बैठते समय झुक कर ना बैठें ये आपके बैक पर अनावशयक दबाव डालता है जिसके कारण बैक पैन होता है।
  • आरामदायक फुटवियर का प्रयोग करें।
  • जब कमर दर्द हो तो सीधे लेट जाएँ और अपने घुटने के नीचे कोई तकिए रख लें इससे कमर की मसल्स को आराम मिलेगा।
  • लगातार एक ही जगह न बैठें थोड़ी थोड़ी देर में उठकर थोड़ा टहल लें।
  • बर्फ या गर्म सिंकाई करें।
  • तिल के तेल से मसाज करें।
  • गोंद को घी में सेंक कर उसे गुड़ और सोंठ के साथ मिलाकर खाने से भी कमर दर्द में राहत मिलती है।
  • कैल्शियम की कमी को दूर करने के लिए ऐसे पदार्थो का सेवन करें जिनसे कैल्शियम मिलता है जैसे दूध दही,पनीर,टोफू,सोयाबीन , राजमा, ब्रोक्कली ,अंजीर , बादाम, तिल , चिया सीड।
  • इसके अलावा कुछ योगासन भी कमर दर्द को दूर करने में सहायक होते है जैसे पर्वतासन, बाल आसन , उष्ट्रासन , सेतु बंधासन .

हालाँकि कमर दर्द हमेशा किसी बीमारी के कारण नहीं होता है पर फिर भी लम्बे समय तक कमर दर्द रहना , किसी रोग का संकेत हो सकता है। इसलिए ऐसे में डॉक्टर की सलाह ज़रूरी हो जाती है

अनचाहे बालों की समस्या

आजकल के समय में आपका प्रेसेंटेबल दिखना काफी ज़रूरी हो गया है। आप चाहे स्टूडेंट हों या फिर जॉब कर रहें हो ग्रूमिंग सभी के लिए अनिवार्य हो गयी है इससे न सिर्फ आपका कॉन्फिडेंस बढ़ता है बल्कि आपका व्यक्तित्व भी निखरता है।

अनचाहे बालों की समस्या सभी को होती है फिर चाहे आप लड़की हो या लड़का। वैसे तो अनवांटेड हेयर रिमूवल के बहुत सारे विकल्प हमारे पास है जैसे थ्रेडिंग, वैक्सिंग , रेजर से इसके अलावा लेज़र तकनीक का इस्तेमाल भी हेयर रिमूवल के लिए होता है पर इसमें खर्चा बहुत ज़्यादा होता है जो आम लोगों के बजट के बाहर होता है।

अनचाहे बालों का मुख्य कारण हार्मोनल इम्बैलेंस या सीधे शब्दों में कहें तो हॉर्मोन्स में गड़बड़ी होता है। इसके अलावा कुछ दवाओं के साइड इफ़ेक्ट से भी ऐसा होता है।

अनचाहे बालों की ग्रोथ को कम करने और हटाने के कुछ प्राकृतिक उपाए भी है जो आसान होने के साथ साथ सुरक्षित भी होते है।

इन घरेलु नुस्खों से कोई साइड इफ़ेक्ट नहीं होता और यदि इन्हे लम्बे समय तक प्रयोग किया जाता है तो इनसे उस जगह पर हेयर ग्रोथ बहुत कम या बंद भी हो जाती है। अब हम आपको कुछ घरेलु उपाए बताते है जिन्हे अपना कर आप आसानी से हेयर रिमूव कर सकते है।

इसमें एक ध्यान देने योग्य बात ये है की आपको कोई भी नुस्खा अपनाने से पहले एक एलर्जी टेस्ट जरूर करना चाहिए। इससे आपको अगर किसी चीज़ से एलर्जी होगी तो आपको पता चल जाएगा और आप उस नुस्खे का प्रयोग ना करके कोई और उपाय को कर सकते हैं।

इसके लिए आप जो भी पैक को चेहरे पर लगाने वाले हैं उसे हाथ में थोड़ा सा लगा कर १० मिनट देखें । यदि आपको कोई कोई जलन या चुभन महसूस होती है तो इसका मतलब है आपको उस चीज़ की एलर्जी है और उसे आपको चेहरे पर नहीं लगाना है।

तो आइये अब हम बात करते है उन साधारण उपायों की , जिनसे आप अनचाहे बालों से छुटकारा पा सकते हैं-

  • फिटकरी पाउडर – 1/2 चम्मच
  • बेसन -3 चम्मच
  • कस्तूरी हल्दी – 1/2 चम्मच
  • कच्चा दूध 1 चम्मच

इन सभी चीज़ो को अच्छे से मिक्स करके उसमें कच्चा दूध धीरे धीरे डालकर हिलाते हुए पेस्ट बना लेंगे। इस पेस्ट को 20-25 मिनट लगाने के बाद हल्के हाथों से धीरे धीरे हटाएंगे। हटाने के बाद चेहरे को ठंडे पानी से धो लेंगे फिर नारियल के तेल से एक दो मिनट मसाज कर लेंगे। इसे एक सप्ताह में दो या तीन बार करना है।


  • सेंधा नमक -1/2 चम्मच
  • शहद 1 चम्मच
  • जैतून या नारियल का तेल 1/2 चम्मच

पहले नमक और शहद को अच्छे से मिक्स कर लेंगे फिर उसमे जैतून का तेल डालकर पेस्ट तैयार कर लेंगे। आप इसे चेहरे पर बालों के ऊपर या पूरे चेहरे पर भी लगा सकते हैं। इसे 10 मिनट रख कर उसके बाद हल्के हाथों से उलटे दिशा में मसाज करते हुए हटा देंगे। इसके बाद चेहरे को पानी से धो लेंगे।

इस उपाय को आप महीने में एक ही बार कर सकते हैं। इससे चेहरे के दाग धब्बे भी हट जाते है। इसे लगाने से आपको थोड़ा सेंसेशन होगा पर इसका कोई नुकसान नहीं होता है।


  • गेहूं का आटा – 1 चम्मच
  • पिसी शक्कर -1 चम्मच
  • शहद -1 चम्मच
  • कच्चा दूध पेस्ट बनाने के लिए

इस पेस्ट को चेहरे पर 15-20 मिनट लगाएंगे। सूखने के बाद हाथों से उलटे दिशा में मसाज करते हुए हटा देंगे। इसके बाद चेहरे को पानी से धो लेंगे। यदि बाल सॉफ्ट है तो 2-3 बार में ही बाल हट जाएंगे पर सख्त बालों के होने पर थोड़ा टाइम लगेगा।


  • पिसी फिटकरी 1/2 चम्मच
  • सेंधा नमक – 1/2 चम्मच
  • गुलाब जल -1/2 चम्मच
  • कस्तूरी हल्दी – 1/2 चम्मच

सबसे पहले हम फिटकरी और नमक को अच्छे से मिलाएंगे , इससे उसका रंग थोड़ा बदल जाएगा , अब उसमे हल्दी और गुलाब जल मिलाकर चेहरे पर लगा लेंगे। इसे 10 मिनट लगाए रहने के बाद धीरे धीरे रब करते हुए हटा देंगे। इसके बाद ठंडे पानी से धो कर, नारियल तेल से चेहरे की मसाज करेंगे।


  • गेंहू का आटा – 1 चम्मच
  • कच्चा दूध या गुलाब जल – 1 चम्मच
  • कस्तूरी हल्दी – 1/2 चम्मच

इन सभी को मिलाकर पेस्ट तैयार कर लें और चेहरे पर लगा लें। इसे 15 मिनट लगा रहने दें और फिर एंटीक्लॉक यानि विपरीत दिशा में मसाज करते हुए इसे हटाएँ। इसके बाद ठंडे पानी से चेहरा धोकर गुलाब जल या क्रीम लगा लें। इस नुस्खे का प्रयोग आपको सप्ताह में तीन दिन करना है। इससे नियमित रूप से प्रयोग करने से अनचाहे बालों की समस्या से काफी राहत मिलती है और कुछ समय बाद उस स्थान पर हेयर ग्रोथ रुक जाती है।

आज के समय में यदि आप स्वस्थ त्वचा लम्बे समय तक चाहते हैं तो अपने ऊपर केमिकल्स का प्रयोग कम से कम करें। ख़ासतौर पर चेहरे पर वैक्स या दूसरे इसी तरह के प्रोडक्ट्स का ज़्यादा इस्तेमाल, फायदे के बजाये नुकसान ज़्यादा करता है। हमारे घरों में हमारी दादी नानियाँ कितनी बड़ी उम्र तक भी बिना किसी पार्लर जाए बहुत सुन्दर दिखती थीं ,उसका एक बड़ा कारण ये भी था की तब चेहरे और शरीर की देखभाल प्राकृतिक तरीकों से ही की जाती थी।