How to keep heart healthy

हमारा दिल हमारे शरीर के सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण अंगो में से एक है। हम सभी जानते ही है की हमारा मस्तिष्क और हार्ट , ये ही वो अंग है जो हमारे पैदा होने से लेकर हमारी आखरी सांस तक लगातार काम करते रहते है। इसीलिए दिल यानि हार्ट का हमेशा ख्याल रखना जरूरी है। अपने हार्ट को हैल्दी रखने के लिए हम कुछ बातो का ख्याल रख कर खुद को और अपने अपनों हार्ट से रिलेटेड प्रोब्लेम्स से बचा सकते है।

हम अपने दिल को स्वस्थ यानि हैल्दी बनाये रखने के लिए कुछ आसान से टिप्स को फॉलो कर सकते है जिससे हम किसी भी हार्ट रिलेटेड प्रॉब्लम को होने से रोक सकते है।

योग , मैडिटेशन या कोई भी एक्सरसाइज करें या आधा घंटे की वॉक करें। हार्ट को हैल्दी और फिट रखने के लिए जरूरी है कम से कम 30 मिनट की फिजिकल एक्सरसाइज जरूर करें। इससे शरीर में ब्लड सर्कुलेशन अच्छा होता है। इसके अलावा योग और मैडिटेशन से शरीर में स्ट्रेस हॉर्मोन का लेवल कम होता है जो तनाव को कम करता है। तनाव, हार्ट प्रोब्लेम्स के मुख्य कारणों में से एक होता है। इसके साथ ही एक्सरसाइज से हमारी इम्युनिटी भी बढ़ती है।

अपने डाइट में फ्रेश फ्रूट्स और वेजटेबल्स को बढ़ाएं। सब्जियों में पालक , ब्रोक्कली , लोकि , तरोई , करेला , कद्दू को शामिल करें। यह सभी सब्जियां अनेक मिनरल्स और विटामिन्स से भरपूर होती है जो बॉडी को सभी आवश्यक नुट्रिएंट्स प्रदान करती है। इनसब के साथ ही सलाद को भी अपने खाने में शामिल करे। खाने के साथ टमाटर , प्याज , लहसुन , खीरे का प्रयोग करें जिससे ब्लड प्रेशर ठीक रहता है और हमारे ब्लड वेसेल्स में ब्लॉकेज की प्रॉब्लम होने की संभावना कम हो जाती है। सभी बेरीज़ जैसे स्ट्रॉबेरी , लीची , ब्लैकबेरी , ब्लूबेरी और पाइनएप्पल , अनार , तरबूज , केला , खट्टे फलों को जरूर लें।

तनाव कम करें – तनाव का सीधा संबंध ब्लड प्रेशर से होता है यदि हम टेंशन में रहते है तो हमारे शरीर में ब्लड प्रेशर बढ़ने लगता है जो न सिर्फ दिमाग के लिए बल्कि दिल के लिए भी खतरा बन सकता है। इसलिए तनाव को कम करने की कोशिश करें। ध्यान , प्राणायाम करें। इसके अलावा आप अपने आप को अपने पसंद के कामो में बिजी कर सकते है। धीमा म्यूजिक सुने , या अपनी बातो या परेशानियों को कही लिख लें। इससे आप को राहत मिल सकती है।

नींद पूरी लें। एक सामान्य स्वस्थ व्यक्ति को कम से कम 7-8 घंटे की नींद जरूर लेनी चाहिए। यह हमारे हार्ट के लिए काफी जरूरी होता है। इसका कारण यह है की जब हम कम नींद लेते हैं तो हमारे शरीर में स्ट्रेस हॉर्मोन का स्तर बढ़ जाता है जिसका असर ब्लड प्रेशर पर पड़ता है। हमारे स्वस्थ दिल के लिए समान्य ब्लड प्रेशर का होना बहुत जरूरी होता है। इसके अलावा 8 घंटे से ज्यादा सोना हमारे बेसेल मेटाबोलिक रेट को कम कर देता है जिससे मोटापा बढ़ता है जो फिर हृदय रोगो का कारण बन जाता है। इसलिए पर्याप्त नींद लेना जरूरी है। कम और ज्यादा दोनों ही हमारे लिए नुकसानदायक होता है।

ज्यादा देर तक बैठे रहने से बचें। हममे से अधिकतर लोग ऑफिस में लगातार बैठे बैठे काम करते रहते है और काम की व्यस्तता में हमारा ध्यान इस तरह नहीं जा पाता की हमे थोड़ी थोड़ी देर में उठ कर टहल लेना चाहिए। यदि टहलना पॉसिबल न हो तो आप कुछ देर खड़े होकर फिर बैठ सकते है। या फिर बैठे बैठे ही थोड़ी स्ट्रेचिंग कर लें।

ट्रांस फैट का प्रयोग न करें। यह हार्ट प्रोब्लेम्स को बढ़ाते है। इनका ज्यादा सेवन काफी खतरनाक हो सकता है। ट्रांस फैट एक प्रकार के अनसैचुरेटेड फैटी एसिड्स होते हैं जो हमारे शरीर में गुड कोलेस्टेरोल यानि HDL को कम करके बुरे कोलेस्ट्रॉल यानि LDLको बढ़ा देते है। इस तरह के डिस्टर्बेंस की वजह से हार्ट स्ट्रोक और हार्ट डिसीज़ का खतरा बढ़ जाता है। ट्रांस फैट बेक्ड फ़ूड आइटम्स जैसे केक , कुकीस, बिस्किट्स ,फ्राइड फूड्स , फ्रेंच फ्राइज , डोनट्स , फ्राइड चिकन , फ्रोजेन पिज़्ज़ा , नॉन डेरी कॉफ़ी क्रैमर्स में पाया जाता है। इसके अलावा हाइड्रोजनेटेड ऑयल्स भी ट्रांस फैट का स्त्रोत होते हैं।

वेजिटेबल आयल का प्रयोग करें। वेजिटेबल ऑयल्स नॉर्मल्ली हैल्दी होते हैं। पर इनका भी बहुत अधिक मात्रा में लिया जाना वजन बढ़ने के साथ साथ अन्य हेल्थ प्रोब्लेम्स को बढ़ा सकता है इसलिए तेल को सही मात्रा में लिया जाना चाहिए। सभी वेजिटेबल ऑयल्स में पॉली अनसैचुरेटेड फैटी एसिड्स होते है जो हमारे लिए काफी फायदेमंद होते हैं। मूंगफली , सरसो , सोयाबीन , सनफ्लॉवर , सभी तेलों में अलग अलग पोषक तत्व मिलते हैं इसलिए हम इनका अलग अलग डिशेस में प्रयोग करके सभी के फायदे ले सकते हैं। इसके अलावा कोकोनट , ओलिव आयल , केनोला आयल का प्रयोग भी किया जाता है। इसके अलावा आप जब तेल खरीदे तो इस बात का ध्यान दें की कच्ची धानी या कोल्ड प्रेस्सेड आयल खरीदें। रिफाइंड आयल का ज्यादा इस्तेमाल कुछ समय के बाद हेल्थ प्रोब्लेम्स को शुरू कर सकता है।

नमक का प्रयोग कम करें। ज्यादा नमक ब्लड प्रेशर बढ़ाता है जो नार्मल हार्ट फंक्शन पर बुरा प्रभाव डालता है। इसके साथ ही घर में बना ताज़ा खाना ही खाएं। बाहर के खाने में स्वाद और उसको ज्यादा देर तक ख़राब न होने के लिए काफी ज्यादा तेल और नमक का प्रयोग होता है जो हमारे शरीर में ब्लड प्रेशर को बढ़ाने के साथ ही वजन बढ़ने का भी कारण बनता है।

सिगरेट और शराब का सेवन नहीं करें। इसके अलावा प्रोसेस्ड फ़ूड , ज्यादा तेल मसाले वाला खाना , जंक फ़ूड को खाने से बचे। यह सभी चीज़े वजन बढ़ाने और शरीर में फ्री रेडिकल्स को बढ़ाने के लिए जिम्मेदार होती है। जिसका सीधा संबंध हमारे दिल की सेहत से होता है। इसलिए इनसब का सेवन जितना कम कर सके उतना अच्छा होता है।

यदि आपको हृदय से संबंधित कोई समस्या है तो अपने डॉक्टर से सलाह लेकर ही ड्राई फ्रूट्स खाएं। आमतौर पर हार्ट पेशेंट्स को ड्राई फ्रूट्स में से कुछ ही जैसे अंजीर , मुनक्का , डेट्स यानि खजूर , मखाने यानि फॉक्स सीड्स खाने की सलाह दी जाती है। क्यूंकि बादाम , काजू , पिस्ता सहित ज्यादातर डॉयफ्रुइट्स हाई कैलोरी और हाई फैट कंटेंट वाले होते हैं। इसलिए कोई भी नट्स और सीड्स को डॉक्टर की सलाह के बाद ही लें।

सुबह सुबह अनुलोम , विलोम , वज्रासन , पर्वतासन और प्राणायाम जरूर करें। केवल 10 मिनट भी इनको करने से हमारा ब्लड सर्कुलेशन इम्प्रूव होता है और हम हृदय संबंधी रोगो से बच सकते हैं।

इन बातो के साथ ही कुछ छोटे छोटे उपाय है जिनको हम अपने डेली रुटीन में शामिल करके अपने दिल को स्वस्थ रहने में हेल्प कर सकते हैं जैसे –

लहसुन का प्रयोग करें। कई रिसर्च में ये साबित हुआ है की कच्चे लहसुन के सेवन से कई तरह की हार्ट प्रोब्लेम्स को दूर किया जा सकता है। इसलिए लहसुन की 2-4 कलियाँ खाली पेट या खाने के साथ लिया जाना चाहिए। लहसुन में गामा ग्लूटामिलसिस्टन नाम का एक केमिकल होता है जो ब्लड प्रेशर को बढ़ने से रोकता है। इसीलिए हाई बीपी से पीड़ित लोगो को खाली पेट कच्चा लहसुन खाने की सलाह दी जाती है। यदि आप कोई मेडिसिन ले रहे हैं तो डॉक्टर से सलाह लेकर ही इसका प्रयोग करें।

लौकी का जूस – यदि आपको हार्ट प्रॉब्लम है या नहीं है , दोनों ही स्थितियों में रोजाना लौकी का जूस पीना बेहद फायदेमंद होता है। सुबह खाली पेट लौकी का जूस रेगुलर लेने से बैड कोलेस्ट्रॉल के लेवल को कम करने में मदद मिलती है और हार्ट के सामान्य और स्वस्थ रूप से काम करने में भी यह सहायक होता है। लौकी का जूस पीना भी हार्ट को हैल्दी तो बनाता ही है साथ ही डाइबिटीज़ , लिवर इन्फेक्शन , कॉन्स्टिपेशन यानि कब्ज जैसी समस्याओं को भी दूर करता है।

अनार का जूस – हैल्दी हार्ट के लिए अनार का जूस पीने की भी सलाह दी जाती है। अनार में फ्री रेडिकल्स से लड़ने वाले हाई लेवल एंटीऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं इसके अलावा अनार में धमनियों को ब्लॉकेज फ्री रखने और ब्लड प्रेशर में सुधार करने वाले तत्व भी मौजूद होते हैं।

स्ट्रॉबेरी हमारे दिल को अनेक बीमारियों से बचाती हैं, ये एचडीएल (अच्छा) कोलेस्ट्रॉल बढ़ाने में , बीपी को कम करने में मदद करती है इसके अलावा इसमें विटामिन, फाइबर और विशेष रूप से पॉलीफेनोल्स नाम के उच्च स्तर के एंटीऑक्सिडेंट भी पाए जाते हैं ।

डार्क चॉकलेट आपके दिल की सेहत के लिए अच्छी है।डार्क चॉकलेट में फ्लवोनोइड्स पाए जाते है जो दिल से संबंधित रोगों के खतरे को कम करते हैं। रोजाना थोड़ी सी डार्क चॉकलेट भी हार्ट को हैल्दी बनाए रखने में मदद करती है। कम शुगर और कम मिल्क कंटेन्ट वाली डार्क चॉकलेट रोगों से लड़ने वाले एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर होती है और हृदय संबंधी रोगों के खतरे को कम करती है। एक्सपर्ट्स , एक सामान्य व्यक्ति को प्रतिदिन 30 gm डार्क चॉकलेट खाने की सलाह देते हैं।

इन सब के साथ ही अपने वजन और ब्लड प्रेशर को समान्य रख कर भी हम अपने आप को हार्ट रिलेटेड प्रोब्लेम्स से बचा सकते हैं। क्यूंकि मोटापा और हाई बीपी और तनाव , दिल की बीमारियों के मुख्य कारण हैं। इसलिए तनाव से बचें , खुश रहें , संतुलित आहार यानि बैलेंस्ड डाइट लें।

how to keep heart healthy foods , 10 ways to keep your heart healthy , healthy heart foods , 5 ways to keep your heart healthy , healthy heart exercises , heart healthy diet , why is it important to keep your heart healthy, dos and donts to keep your heart healthy , 10 ways to keep your heart healthy, healthy heart exercises, how to improve heart health naturally, steps to have a healthy heart, heart foundation triglycerides, what effect does smoking have on the heart , heart-healthy foods list , cardiac diet , foods to avoid with heart disease , indian diet chart for heart patient , what drinks are good for your heart , 30-day heart healthy meal plan pdf , healthy heart foods, how long does it take to get a healthy heart , how to prevent heart attack with food , heart disease prevention and treatment , how to stop a heart attack immediately , treatment of heart disease , cardiovascular disease and nutrition , how to keep heart-healthy foods , how to keep circulatory system healthy, lifestyle for healthy heart , 5 ways to keep your heart healthy, how does eating more fiber benefit you , what is the beating sound your heart makes, heart health brochure, foods to strengthen heart muscle , can heart muscle damage be reversed , how to have healthier heart, how to prevent heart disease naturally , is chocolate good for your heart , how to keep healthy body , 20 ways to stay healthy , healthkeep scales, heart patient ke liye diet chart, dil ke liye exercise, diet chart for heart blockage patient, kamzor dil ko majbut kaise kare, dark chocolate, heart and sugar patient diet chart in hindi, kamjor dil ka ilaj in hindi, heart ko majboot karne ka yoga , heart exercise in marathi, dil ki bimari ki janch, heart patient ko konsa fruit khana chahiye, heart weakness treatment in hindi, stress cardiomyopathy in hindi , dil ko swasth rakhne ke liye yoga

Published by

healthyme happyme

अगर अच्छा स्वस्थ्य आपकी मंज़िल है तो हम आपके इस सफर में आपके साथी है आप कैसा महसूस कर रहे हैं ये आपके हर दिन पे प्रभाव डालता है तो हम आपके साथ हैं आपके मार्गदर्शन के लिए और आपको प्रोत्साहित करने के लिए। आपका स्वस्थ्य आपके हाथ। HealthyMeHappyMe आपके स्वास्थय और शारीरिक क्षमताओं को और भी बेहतर बनाने के लिए आपकी मदद करता है।

Leave a Reply